Capacitor hindi me (कैपेसिटर क्या होता है?)

Capacitor in Hindi (कैपेसिटर हिंदी में )

Capacitor hindi me: दोस्तों आज इस पोस्ट में हम कपैसिटर को हिंदी (Capacitor in Hindi) में जानेगे ।

संधारित्रता  या कैपेसिटेंस इलेक्ट्रॉनों को स्टोर करने की क्षमता को कहा जाता है। एक संधारित्र, कभी-कभी कंडेनसर कहा जाता है, एक विद्युत घटक है जो चार्ज को स्टोर कर सकता है। कैपेसिटर का उपयोग कई उद्देश्यों के लिए किया जाता है।

Capacitor hindi me, Capacitor in Hindi

 

धातु कि दो प्लेटो के बीच कोई कुचालक पदार्थ रखकर, प्लेटो में से एकएक तार निकल दिया जाएँ तो इस तरह बने डिवाइस को केपेसीटर कहा जाता हैं।
कपैसिटर एकबैटरी कीतरह कामकरता हैं।यह करंटको स्टोरकरता है।जिस प्रकारटंकी मेंस्टोर पानीको दुबारानिकाला जासकता हैं।ठीक उसीप्रकार केपेसीटरमें स्टोरकिये गयेआवेशो कोभी दुबाराप्राप्त कियाजा सकताहैं।
·         केपेसीटर काकाम विधुत ऊर्जाको एकत्रित करना विधुत ऊर्जाको एकत्रित दुबाराप्रदान करना हैं।
  • केपेसीटर के इस प्रक्रिया को केपेसीटर कि चार्जिंगडिसचार्जिंग प्रक्रिया कहा जाता हैं।
  • केपेसीटर के द्वारा विधुत को स्टोर करने कि क्षमता को केपेसीटर का केपेसिटेन्स कहते हैं।
  • केपेसिटेन्स को “C” अक्षर से प्रदर्शित किया जाता हैं। केपेसिटेन्स को “F” से मापा जाता हैं।
1000 पीको फेराड(kF) = 1 किलोपीको फेराड(KpF)
1000 किलो पीकोफेराड (KpF) = 1 माइक्रो फेराड(MFD,MF,UF)

10,00,000 माइक्रो फेराड(MF) = 1 फेराड (F)

कपैसिटर के प्रकार (Types of Capacitor)

  1. फिक्स टाईप केपेसीटर (FIXED TYPE CAPACITOR): ऐसे केपॅसिटर जिनका मान घटाया या बढ़ाया नही जा सकता हैं।
  2. वेरीएबल टाईप केपेसीटर(VARIABLE TYPE CAPACITOR): ऐसे केपॅसिटर जिनका मान घटाया या बढ़ाया जा सकता हैं।
  3. सेमी वेरीएबल टाईप केपेसीटर (SEMI VARIABLE TYPE CAPACITOR): ऐसे केपॅसिटर जिनका मान उस पर अंकित मान से कुछ कम मान तक घटाया या बढ़ाया जा सकता हैं।

 

  • Paper Capacitor (पेपर कैपेसिटर)
  • Electrolytic Capacitor (इलेक्ट्रोलाइटिक कैपेसिटर)
  • Mica Capacitor (माइका कैपेसिटर)
  • Ceramic Capacitor (सिरेमिक कैपेसिटर)
  • Styroflex Capacitor (स्टीरॉलेक्स कैपेसिटर)
  • Polyester Capacitor (पॉलिएस्टर कैपेसिटर)

 

कैपसिटर का विभिन्न सर्किट में प्रयोग व् काम

कैपसिटर मुख्य काम AC को पास करना व DC को रोकना होता हैं।

  • filtration circuit
  • Coupling circuit
  • Delay Timing circuit
  • Capacitor Polarity
Polarity के हिसाब से कैपसिटर दो तरह के होते हैं।

1. Polorised Capacitor
2. NON Polorised Capacitor

    • ऐसे कैपसिटर जिनमे negative और positive टर्मिनल होते हैं। Polorised Capacitor कहलाते हैं। इन Capacitor को circuit में लगाते समय नेगेटिव व पॉजिटिव का विशेष ध्यान रखना पड़ता हैं। यदि यह उलटे लगा दिए जाए तो यह गरम होकर फट जाते हैं।
Capacitor hindi me (कैपेसिटर क्या होता है?)
Capacitor (कैपेसिटर)
  • ऐसे कैपसिटर जिनमे negative और positive टर्मिनल नहीं होते हैं। Non Polorised Capacitor कहलाते हैं। इन Capacitor चाहे जैसे लगा सकते हैं।

कपैसिटर को चैक करने की विधि: Capacitor Checking Methods

यदि किसी कैपेसिटर की continuity (निरंतरता) चेक करने पर मीटर की सुई कोई डिफ्फ्लेक्शन नहीं देती है मतलब अधिकतम resistance दिखता है। तो कपैसिटर सही भी हो सकता है और ओपन भी हो सकता है।
कियोंकि न तो सही कपैसिटर dc को पास करता है न open कपैसिटर।

Capacitor hindi me, Capacitor in Hindi

स्टेप 1 → यदि मीटर से कपैसिटर की कन्टीन्यूटी चेक करने पर मीटर की सुई full deflection show करती है। मतलब मीटर की सुई बाये से दाई ओर शून्य पर आ जाती है तो कपैसिटर short है।

■Tips→ यदि कपैसिटर का उपयोग circuit में DC को block करने के लिए किया गया है तो short capacitor को सर्किट में लगे हुए भी चेक किया जा सकता है।
ओपन कपैसिटर (कंडेनसर) और सही कपैसिटर को चेक करना check Open And OK Capacitor

स्टेप → ओपन और सही कैपेसिटर की जाँच करने के लिए मल्टीमीटर को 250v AC Range नॉन पोलर कपैसिटर को सीरीज में लगाकर कपैसिटर के दूसरे सिरे पर मीटर की प्रोब को लगाते है और मीटर दोनों सिरो पर AC करंट देते है। यदि मीटर की सुई(Niddle) वाल्ट दिखती है तो कपैसिटर सही है। अगर नहीं दिखाती है तो ओपन है।

Open Or OK Capacitor Testing

■Tips → Non Polar Capacitor को बुल्स के सीरीज में लगाकर भी चेक किया जा सकता है।

पोलर कपैसिटर (कंडेनसर) को चेक करना। check polarized capacitor
पोलर कपैसिटर को मीटर से चेक करने पर एक बार फुल डिफ्लेक्शन देता है फिर सुई धीरे धीरे निचे की तरफ आती है तो कैपेसिटर सही है। यदि सुई वापिस नहीं आती है तो कपैसिटर शार्ट है।
यदि कैपेसिटर ओपन होगा तो मीटर की सुई नहीं हिलेगी।

लिकी कपैसिटर (कंडेनसर) को चेक करना Check leak Capacitor

लिकी कैपेसिटर की टेस्टिन मल्टीमीटर से पूरी तरह से सही नहीं हो पाती है है क्युकी Leaky capacitor भी कभी कभी सही कन्टीन्यूटी दिखता है।

leaky Capacitor

लिकी कैपेसिटर की पहचान Identification of leaky capacitor (कंडेनसर) कैपेसिटर लिक होने पर ऊपर या नीचे की तरफ से फूल जाते है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *