Yagi Uda Antenna Hindi Me(यागी उडा एंटीना हिंदी में )

Yagi Uda Antenna Hindi Me (यागी उडा एंटीना हिंदी में )

Yagi-Uda Antenna या Yagi Uda Antenna in Hindi (यागी)

Yagi Uda Antenna Hindi Me

यागी-उदा या यागी एंटीना (Yagi antenna ) एक उच्च लाभ वाला एंटीना है, जिसे प्रोफेसर S. Uda एवं H. Yagi के नाम से जाना जाता है। ऐन्टेना का आविष्कार तथा इसका वर्णन 1928 के आस-पास जापानी भाषा प्रोफेसर S. Uda द्वारा किया गया और बाद में इसका अंग्रेजी में अनुवाद या वर्णन प्रोफेसर H. Yagi द्वारा  किया गया था।

Yagi Antenna Principle (यागी एंटीना सिद्धांत) –

Yagi Antenna के सिद्धांत को समझने की एक प्रमुख कुंजी एंटीना के विभिन्न तत्वों में बहने वाली धाराओं के चरणों का ज्ञान है।
यागी एंटेना के परजीवी तत्व (parasitic elements) अपने संकेतों को थोड़ा भिन्न चरण में संचालित तत्व के पुनः विकिरण द्वारा संचालित करते हैं।

यागी एंटीना में फीड डालने के लिए एक संचालित तत्व (driven element), संकेतों को प्रतिबिंबित करने के लिए एक परावर्तक (reflector) और एक या अधिक निदेशक (directors) होते हैं। इसमें उपयोग होने वाले parasitic elements   तो, यागी-उडा एंटीना एक संचालित तत्व (या सक्रिय तत्वों की एक सरणी है जहां ट्रांसमीटर से बिजली प्राप्त की जाती है या जो रिसीवर को शक्ति प्राप्त करता है) और एक या अधिक परजीवी तत्व (जो सीधे प्रसारण से नहीं जुड़े होते हैं लेकिन विद्युत रूप से युग्मित होते हैं)।

इसमें उपयोग होने वाला Driven Element हाफ वेव डिपोल (half-wave dipole) होता है तथा इसकी लम्बाई उपयोग होने वाली wavelength की आधी या λ/2  होती है। इसमें उपयोग होने वाले parasitic elements धातु के बने, रोड के आकर के होते है और ये सभी driven elements के समानांतर या parallel होते है तथा एक ही axis पर होते है । Parasitic Elements एक दूसरे से इलेक्ट्रिकली या direct जुड़े नहीं होते है जबकि ये सभी elements में प्रेरित वोल्टेज से उत्तेजना प्राप्त करते हैं।

यागी एंटीना में प्रेरित होने वाले वोल्टेज तथा करंट का phase उसमे उत्पन होने वाले induced voltage के कारण बदल जाता है, जो एंटीना में उपयोग किए जाने वाले विभिन्न तत्वों के बीच की दुरी पर निर्भर करता है और तत्वों की प्रतिक्रिया पर भी निर्भर करता है। यागी उदय एंटीना एक दिशात्मक एंटीना है इसलिए इसका विकिरण पैटर्न (radiation pattern) भी दिशात्मक होता है।

रेडिएशन पैटर्न 

 

एंटीना की विशेषताएं

  1. यदि तीन तत्वों को सरणी या series (एक परावर्तक, एक चालित और एक निर्देशक) में उपयोग किया जाये, तो इस तरह के यागी-उदय एंटीना को आमतौर पर बीम एंटीना के रूप में जाना जाता है।
  2. इसके विकिरण पैटर्न में, मध्यम प्रत्यक्षता (moderate directivity) का एक यूनिडायरेक्शनल बीम उत्पन्न होता है।
  3. यह एक हल्का, कम लागत तथा बनाने में बहुत आसान एंटीना है।
  4. इस ऐन्टेना के तत्वों के बीच की दूरी 0.1λ से 0.15λ के बीच होती है।
  5. इस ऐन्टेना में प्रति यूनिट क्षेत्र में उच्च gain और beamwidth प्राप्त होती है, इसलिए इसे सुपर डायरेक्टिव या सुपर गेन एंटीना के रूप में भी जाना जाता है।
  6. इस एंटीना में, मुड़ा हुआ द्विध्रुव (dipole) आमतौर पर उत्तेजना के लिए उपयोग किया जाता है। निर्देशक के सामने, ट्रांसमीटर की ओर रखा गया एक सीधा चालक निर्देशक (directors) के रूप में जाना जाता है। संचालित तत्व के पीछे, संकेतों को प्रतिबिंबित करने के लिए रखा गया एक सीधा कंडक्टर भी परावर्तक (reflectors) के रूप में जाना जाता है।

2 thoughts on “Yagi Uda Antenna Hindi Me(यागी उडा एंटीना हिंदी में )

  1. Tula's International School is the best Dehradun boarding schools for girls & boys. It is one of the top schools in Dehradun.The school is affiliated to CBSE which offers holistic education to students.

    Tula's International School Best Boarding School in Dehradun

    Tula's International School Best Boarding School in Dehradun

    Tula's International School Co-ed Boarding School in Dehradun

    Tula's International School Best Residential School in Dehradun

    Tula's International School Dehradun Boarding School Fee structure

    Tula's International School Top Girls Boarding School India

    Tula's International School Best CBSE Schools in Uttarakhand

    Tula's International School Top Boarding Schools in India

    Tula's International School Best Boarding School in Dehradun

    Tula's International School Top Boarding Schools in Dehradun

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *